"चांद की गोपनीयता: 15 अनसुने रहस्यमय तथ्य जो आपको विस्मित कर देंगे!"

1.चांद के पास आकर्षण शक्ति धीमी होती है: भूमि की आकर्षण शक्ति के कारण, चांद के पास जाने के दौरान ग्रहीय यात्रियों को समय के साथ धीरे-धीरे चलना पड़ता है।

2.चांद और भूमि में कुछ समय की दूरी: चांद और भूमि की सबसे निकटतम दूरी 356,500 किलोमीटर होती है, जो कभी-कभी होती है जब चांद पृथ्वी के करीब आता है।

3.चांद की दूरी में वार्षिक बदलाव: चांद की दूरी में सालाना बदलाव होता है। यह चांद की निकटतम और दूरतम दूरी के बीच लगभग 43,500 किलोमीटर का अंतर हो सकता है।

4.चंद्रमा जमीन से दूसरी तरफ फिसलता है: धरातल से देखा जाए तो चंद्रमा दिखाई देता है कि यह आठ फीसदी जमीन के ऊपर फिसलता है, यानी चांद की दूरी कम होती जा रही है।

5.चांद दिन पर धीरे-धीरे बढ़ रहा है: काले चांद की दूरी 3.8 सेंटीमीटर प्रति वर्ष बढ़ रही है, जो मीटर में भी काफी लंबी दूरी है।

6.चांद का नया चेहरा: चांद को पृथ्वी के चारों ओर घूमते समय एक ओर से ही देखा जा सकता है, इसलिए चांद का एक ओर हमेशा अंधेरा रहता है और एक ओर पूरी तरह से प्रकाशित होता है।

7.चांद की गड़बड़ी तथ्य: चांद एक गड़बड़ी ग्रह है जिसे यूरोपीय वैज्ञानिकों ने खोजा है। इसलिए इसे "गड़बड़ी ग्रह" के रूप में भी जाना जाता है।

8.चांद बड़ा हो रहा है: चांद की दूरी बढ़ रही है, लेकिन वास्तविकता यह है कि चांद बड़ा हो रहा है। प्रतिबंधक के कारण, चांद धीरे-धीरे पृथ्वी के समीप आ रहा है।

9.चांद की उम्र: चांद की उम्र लगभग 4.5 बिलियन वर्ष हो सकती है, जो भूमि से कुछ कम है।

10.चांद और सूरज की सटीक दूरी: चांद की औसत दूरी का तीव्रवर्धन तभी होता है जब वह सूरज के सामीप आता है। इस समय पर, चांद से सूरज तक की दूरी लगभग 1,400,000 किलोमीटर होती है!

11.चांद के चक्कर में ज्यादा समय: एक पूरे महीने में, चांद एक बार अपने अक्ष के आस-पास घूमता है और पृथ्वी को अपनी एक तरफ पूरी दिखाई देता है।

12.चांद की साइड जो धरातल पर दिखती है: चांद की एक साइड धरातल पर हमेशा दिखती है, जिसे "अवरोही स्वरूप" कहा जाता है। यह वजह है कि हम दूर से देखते समय हमेशा एक ओर से चांद को देखते हैं।

13.चांद का गृहीय केंद्र: चांद का गृहीय केंद्र धरातल से थोड़ी ओर एक ओर है, जिसका अर्थ है कि चांद का दिखाई देने वाला चेहरा हमेशा हमेशा एक ओर रहता है।

14.चांद की कई चांदें: चांद को देखने पर आपको शायद हैरानी होगी कि चांद में कई छोटे-छोटे चांदें भी हैं। ये छोटे चांद उन गड़बड़ी ग्रहों में से एक हैं जिन्हें हम "चांद" कहते हैं।

15.चांद की त्रिकोणीय प्राकृतिका: चांद के ऊपर के क्षेत्रों में आप त्रिकोणीय प्राकृतिका देख सकते हैं, जिन्हें आब्राम नामक गहन गड़बड़ी ने चुनौती दी है। यह अनुपम तस्वीरों की गणना करने के लिए इस्तेमाल की जाती है।