Oil Pulling करने का सही तरीका

अगर आपको तेल का कुल्ला करने के स्वास्थ्य लाभ चाहिए तो आपको इसे करने का तरीका पता होना बहुत ही जरूरी है. यूँ ही कभी भी और किसी भी तेल से कुल्ला करने से आपको लाभ के बजाय नुकसान भी हो सकते हैं.

तो सबसे पहले तो आप ये जान लें की Oil Pulling किस तेल से करें यानी Oil Pulling करने के लिए कौनसे तेल का इस्तेमाल किया जाता है. तो कोई भी ऐसा तेल जिसका उपयोग हम खाद्य व्यंजन बनाने में प्रयोग करते हैं उससे Oil Pulling की जा सकती है.

Oil Pulling के लिए सबसे Best Oils में तिल का तेल, नारियल का तेल, सूरजमुखी का तेल और जैतून का तेल आते हैं. आप इनमें से किसी भी तेल का Use कुल्ला करने के लिए कर सकते हैं. बस आपको Oil Pulling करने की विधि का ज्ञान होना आवश्यक है.

ध्यान रहे Oil Pulling हमेशा सुबह बासी मुहं और मंजन करने से पहले की जानी चाहिए. आप जिस भी तेल से Oil Pulling करना चाहते हैं उसकी 1 से 2 छोटी चम्मच भरकर अपने मुहं में डालें. ध्यान रहे तेल को आपको निगलना नहीं है. अन्यथा आपकी सेहत को नुकसान हो सकते हैं.

अब आप अपने मुहं से जोर लगाकर उस Oil को अपने मुहं के अन्दर चारों तरफ घुमाएँ. आपके मुहं का एक भी ऐसा हिस्सा नहीं रहना चाहिए जहाँ तक वो तेल ना पहुँच पाये. आपको हर तरफ उस तेल को पहुंचाना है और 3-4 मिनट मुहं के अन्दर ही कुल्ला करते रहना रहना है.

3-4 मिनट में आप पाएंगे की वो तेल हल्का पतला और सफ़ेद हो गया है. अब आप उस तेल को बाहर थूक सकते हैं और गर्म पानी लेकर अपने मुहं को अन्दर से अच्छे से साफ़ कर सकते हैं. गर्म पानी से कुल्ला करने के 5 मिनट बाद आप मंजन कर सकते हैं.

लीजिये हो गया आपका मुहं पूरी तरह से Becteria Free. इस क्रिया से आपके शरीर के अन्दर मौजूद विषाणु भी ख़त्म होते हैं. वास्तव में Oil Pulling के ढेरों लाभ हैं. तो Oil Pulling क्या है और इसे करने का तरीका क्या है आपको सब समझ आ गया होगा.

चलिए अब बढ़ते हैं इसके Benefits की तरफ और जानते हैं की नियमित रूप से तेल का कुल्ला करने से आपको कौन कौन से स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं. जो लोग ये सोच रहे हैं की Oil Pulling से सिर्फ मुहं को फायदा पहुँचता है वो आगे पोस्ट को पूरा पढ़ें.