सेक्स के बारे में मनोवैज्ञानिक तथ्य

सबसे बड़ी सेक्स ओर्ज़ी (सामूहिक सम्भोग) हर साल बसंत के महीने में कनाडा के मैनिटोबा में घटित होती है  जब 30000 गार्टर स्नेक शीत निंद्रा के बाद सेक्स के लिए इकठ्ठा होते है।

यौन क्रिया की चरम अवस्था के वक्त स्त्री-पुरुष दोनों के दिल की धड़कन 140 प्रति मिनट तक पहुँच जाती है।

महिलाऐ 45 साल तक उम्र तक औसतन 3000 बार काम (सेक्स) करती हैं।

40 साल की उम्र तक के मदों के लिंग मात्र 10 सेकेंड में इरेक्टेड(खड़े हो जाते हैं।

लोक दंपत्ति एक वर्ष में सबसे ज्यादा औसतन 138 बार सेक्स करते है जबकि जापानी दंपत्ति सबसे कम केवल 45 बार ही करते हैं।

पुरुष के लिंग में वीर्य निकलने की गति 36.9 किलोमीटर प्रति घंटा होती है  जो उसेन बोल्ट के 100 मीटर के रिकार्ड को तोड़ने के लिए काफी

एक छोटे से कैप्सूल में इतने शुक्राणु आ सकते हैं जिनसे वर्तमान पृथ्वी पर मौजूद मनुष्यों से ज्यादा जनसंख्या बनाई जा सकती है।

संभोग करते समय महिलाओं के स्तन और योनि के इलावा नाक का भीतरी भाग भी फूल जाता है।

सेक्स करते समय आदमी की दाढ़ी आम अवस्था के मुकाबले ज्यादा तेजी से बढ़ती है।

एक बार मैथुन करने से पुरुष की 100 कैलोरी खप्त हो जाती है।