मनोविज्ञान तथ्य

मनोविज्ञान का कहना है की जब एक मर्द रोटस है तो उसका दर्द ओर तखलिफ़ महिला से 10 गुना ज्यादा होती है |

हर किसी की जिंदगी मे एक ऐसा इंसान जरूर होता है | जिसे देखकर वो मुस्करा देते है चाहे वो कितने भी दुख मे क्यों न हो

खाली बैठे इंसान के दिमाग मे ज्यादा नेगटिव विचार आते है | जबकि काम मे लगे रहने बाले इंसान मानसिक रूप से सवस्थ रहता है | और तनाव भी कम होता है

लोग किसी भी अफवा पर जल्दी यकीन कर लेते है | पर सची बात पर नहीं करते

85% लोग दुनिया मे ऐसे है जो रात को वो सब सोचते है | जो वो आपने असली जिंदगी मे करना चाहते है |

रोजाना 10 मिनट तक अपना पसंदीदा संगीत सुनने पर आप मानसिक तो पर हमेशा खुश रहते है |

ऐसे लोग किसी को भी अपनी तरफ आकर्षित कर लेते है | जो दूसरों को हसाना जानते है ||

आप उस इंसान से कभी भी नाराज नहीं हो सकते जिससे आप प्यार करते है |

आप जिस प्रकार के कपड़े पहनते है उसी प्रकार आपका मूड भी हो जाता है |

सोतों समय मनुष छिक तथा खाँस नहीं सकते | अगर वो ऐसा करते है | तो वो जाग चुके होते है |